Thursday , July 18 2024
Breaking News

पंजाब में जिम सप्लीमेंट की दुकान चलाने वाले शख्स ने सिपाही के साथ मिलकर एक युवक को जिम से करवाया गिरफ्तार, बाद में किया ब्लैकमेल, विजिलेंस ने पकड़ा, पढ़ें

चंडीगढ़, (PNL) : राज्य में भृष्टाचार के विरुद्ध शुरु की गई मुहिम के दौरान पंजाब विजीलेंस ब्यूरो ने आज गांधी चौक, बटाला, ज़िला गुरदासपुर में जिम सप्लीमेंट की दुकान चलाने वाले अमन नाम के एक प्राईवेट व्यक्ति को पुलिस सिपाही के लिए 2 लाख रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों काबू किया है। इस केस में मुलजिम सिपाही की पहचान मोहित बेदी के तौर पर हुई है, जो स्पेशल टास्क फोर्स (एस.टी.एफ.) बटाला की टीम में तैनात है।

इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए आज यहाँ विजीलेंस ब्यूरो के प्रवक्ता ने बताया कि शिकायतकर्ता महिला ने ब्यूरो से सम्पर्क करके दोष लगाया कि एस.टी.एफ. बटाला की पुलिस टीम ने सोमवार को उक्त जिम में छापा मारा और उसके पति को जिम से गिरफ़्तार कर लिया। शिकायतकर्ता ने यह भी बताया कि एस.टी.एफ. की टीम ने उनके घर की भी बारीकी से तलाशी ली परन्तु कोई भी नशीला पदार्थ बरामद नहीं हुआ।

महिला ने दोष लगाया कि उसके पति को गिरफ़्तार करने के कारण संबंधी पूछे जाने पर सिपाही मोहित ने उसको उक्त दुकानदार अमन, जोकि उसके पति का दोस्त भी है, को मिलने के लिए कहा ताकि उसके पति को बिना किसी आपराधिक मुकद्दमा दर्ज किए रिहा कराया जा सके। शिकायतकर्ता ने आगे बताया कि उक्त दुकानदार अमन ने उसको 10 लाख रुपए रिश्वत का प्रबंध करने और रिश्वत की पहली किश्त के तौर पर 2 लाख रुपए पुलिस मुलाज़िम मोहित को देने के लिए कहा।

प्रवक्ता ने बताया कि प्राथमिक जांच के उपरांत विजीलेंस ब्यूरो ने जाल बिछाकर दोषी दुकानदार अमन को दो सरकारी अधिकारियों की हाज़िरी में शिकायतकर्ता से 2 लाख रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों काबू कर लिया। उन्होंने कहा कि अपराधी सिपाही की गिरफ़्तारी के लिए पुलिस टीमों द्वारा छापेमारी जारी है। इस सम्बन्धी विजीलेंस ब्यूरो के थाना अमृतसर रेंज में भ्रष्टाचार रोकथाम कानून के अंतर्गत केस दर्ज कर लिया गया है और इस मामले की अगे की जांच जारी है।

About Punjab News Live -PNL

Check Also

सांसद अमृतपाल सिंह ने जेल से बाहर आने के लिए लोकसभा स्पीकर ओम बिरला को लिखी चिट्ठी, पढ़ें

तरनतारन, (PNL) : राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत डिब्रूगढ़ जेल में बंद खडूर साहिब से …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!