Wednesday , October 28 2020
Breaking News







नवजोत सिंह सिद्धू ने भी तोड़ी चुप्पी, मोदी सरकार के किसान बिल को लेकर दिया बयान, पढ़ें

नई दिल्ली, (PNL) : सालभर से मौन नवजोत सिंह सिद्धू अब मैदान में उतर आए हैं. लोकसभा में पारित दो विवादास्पद कृषि विधेयकों के खिलाफ पंजाब के पूर्व मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने भी आवाज उठाई है. सिद्धू ने एक के बाद एक दो ट्वीट किए. पहले ट्वीट में लिखा, “सरकारें तमाम उम्र यही भूल करती रही, धूल उनके चेहरे पर थी, आईना साफ करती रही.”

दूसरा ट्वीट उन्होंने पंजाबी में किया. इसमें उन्होंने लिखा, “किसान पंजाब की आत्मा है. शरीर के घाव ठीक हो जाते हैं, लेकिन आत्मा के नहीं. हमारे अस्तित्व पर हमला बर्दाश्त नहीं है. युद्ध का बिगुल बजाते हुए क्रांति को जीते रहो. पंजाब, पंजाबी और हर पंजाबी किसान के साथ है.”

कृषि से जुड़े विधेयकों का पंजाब में काफी विरोध हो रहा है क्योंकि किसान और व्यापारियों को इससे एपीएमसी मंडियां समाप्त होने की आशंका है. यही कारण है कि प्रदेश के प्रमुख राजनीतिक दलों ने कृषि विधेयकों का विरोध किया है. इसी कड़ी में केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने कृषि से जुड़े विधेयकों के विरोध में मोदी कैबिनेट से इस्तीफा दे दिया है.

शिरोमणि अकाली दल (शिअद) के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने गुरुवार को लोकसभा में कृषि उत्पादन व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) विधेयक 2020 और मूल्य आश्वासन पर किसान (बंदोबस्ती और सुरक्षा) समझौता और कृषि सेवा विधेयक 2020 का विरोध किया. इसके बाद मोदी सरकार में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया.

About punjab news live (PNL)

Check Also

ईडी दफ्तर नहीं पहुंचे कैप्टन के बेटे रणइंदर सिंह, आप नेताओं ने किया प्रदर्शन

जालंधर, (PNL) : फेमा कानून उल्लंघन मामले में कैप्टन अमरिंदर सिंह के बेटे रणइंदर सिंह …

error: Content is protected !!