Sunday , April 18 2021
Breaking News



सीबीएसई ने 10वीं और 12वीं के पेपर किए रद्द, इस आधार पर पास हो सकेंगे बच्चे, पढ़ें

नई दिल्ली, (PNL) : सीबीएसई ने 10वीं और 12वीं की बची हुई एग्जाम रद्द करने का फैसला किया है। बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट में वीरवार को हुई सुनवाई में यह जानकारी दी। अब स्टूडेंट्स का असेसमेंट उनकी पिछली 3 एग्जाम के आधार पर होगा। उनके पास बाद में परीक्षा देने का विकल्प होगा। 12वीं की पेपर 1 से 15 जुलाई के बीच होने थे। देशभर में इसके 12 सब्जेक्ट के पेपर बचे हैं। वहीं, उत्तर-पूर्वी दिल्ली में इन 12 के अलावा 11 और मेन सब्जेक्ट के पेपर बाकी हैं।

18 मार्च को ये परीक्षाएं टाल दी गई थीं। वहीं, उत्तर-पूर्वी दिल्ली में ही सीबीएसई 10वीं के 6 पेपर होना बाकी हैं। इस तरह 10वीं और 12वीं के 10 लाख से ज्यादा स्टूडेंट्स को कुल 29 सब्जेक्ट की एग्जाम देनी है। अगर कोरोना नहीं होता तो ये परीक्षाएं देशभर में 3 हजार सेंटरों पर हो जाती, लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग की वजह से सीबीएसई को बचे हुए पेपर कराने के लिए 15 हजार सेंटरों की जरूरत होगी।

इंटरनल असेस्मेंट

दसवीं और बारहवीं की लंबित परीक्षाएं रद्द होने की सूरत में सीबीएसई बोर्ड इंटरनल असेस्मेंट के आधार पर स्टूडेंट्स को प्रमोट कर सकता है. देश के कई राज्यों के शिक्षा बोर्ड ने ऐसा किया है और सीबीएसई भी इस विकल्प को आजमाने पर विचार कर सकता है.

प्री बोर्ड के नंबर

इंटरनल असेस्मेंट के अलावा केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड यानी सीबीएसई के पास प्री बोर्ड एग्जाम के औसत के आधार पर छात्र-छात्राओं को नंबर दिए जा सकते हैं. ये सीबीएसई के पास रिजल्ट घोषित करने का दूसरा तरीका है.

जो एग्जाम हो चुके हैं, उन्हें आधार बनाकर

इसके अलावा एक विकल्प ये भी है कि सीबीएसई के जो पेपर हो चुके हैं, उनमें किए गए प्रदर्शन के आधार पर स्टूडेंट्स को रद्द किए गए पेपरों में नंबर दिए जा सकते हैं.

About punjab news live (PNL)

Check Also

जालंधर में सात के बाद छह और लोगों को हुआ कोरोना वायरस

जालंधर, (PNL) : शहर में शनिवार को सात मरीजों के बाद शाम को कोरोना वायरस …

error: Content is protected !!